यूपी विवाह अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन UP Shadi Anudan Yojana 2020

Vivah Anudan Yojana | मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना आवेदन फॉर्म | Shadi Anudan Scheme | शादी अनुदान योजना | उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना ऑनलाइन

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के अंतर्गत गरीब परिवार की बेटियों के विवाह हेतु आर्थिक सहायता दी जाती है।

Table of Contents

Vivah Anudan Yojana 2020

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई इस योजना के अंतर्गत गरीब परिवार की बेटियों को लाभन्वित किया जाता है। विवाह अनुदान गरीब परिवार की लङकियों की शादी हेतु दी जाने वाली वित्त सहायता है। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की सभी वर्ग की कन्याओं को यह लाभ दिया जाता है। शादी अनुदान के तहत राज्य की अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति , पिछङा वर्ग, सामान्य वर्ग तथा अल्पसंख्यक को लाभ दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत कन्या के विवाह हेतु 51 हजार की वित्त सहायता दी जाएगी।

योजना का नामउत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना
अनुदान की राशि 50,000/55,000 रूप
आवेदन की प्रक्रियाOnline
Scheme Publish On18-08-2020
Scheme Updated  On15-10-2020
Official Websitehttp://www.shadianudan.upsdc.gov.in/#
योजना का संक्षिप्त विवरण

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

Vivah Anudan Yojana के अंतर्गत आर्थिक परिवारों की कन्याओं के विवाह हेतु कुछ धनराशि परिवार को प्रदान की जाती है। इस योजना को राज्य सरकार द्वारा संचालित किया जाता है। इस योजना का लाभ एक परिवार की दो कन्याएँ ले सकती है। विवाह अनुदान का लाभ पाने हेतु आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। इस योजना का लाभ केवल आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए है। इस योजना का लाभ केवल राज्य की बेटियों के लिए है।

विधवा पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन

Shadi Anudan Yojana लाभ

  • विवाह अनुदान योजना यूपी के अंतर्गत निर्धन परिवार की युवतियों के विवाह हेतु वित्त सहायता दी जाएगी।
  • विवाह अनुदान के तहत राज्य की अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति , पिछङा वर्ग, सामान्य वर्ग तथा अल्पसंख्यक को लाभ दिया जाएगा।
  • निर्धन परिवार इस धन से वैवाहिक कार्यों को सुलभ रूप से पूरा कर पाएँगे।
  • इसके अतिरिक्त परिवार की आधी समस्याओं का अंत होगा।
  • विवाह के लिए लोगों को कर्ज नही लेना पङेगा।
  • गरीबों को अपने घर,भूमि, खेत आदि गिरवी नही रखने पङेंगे।

Vivah Anudan Scheme में Online Apply हेतु पात्रता

आय संबंधी पात्रता
  • इस योजना का लाभ केवल निर्धन परिवारों की कन्याओं के लिए है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में परिवारिक वार्षिक आय 4680 रूपए होनी चाहिए।
  • शहरी क्षेत्रों में परिवारिक वार्षिक आय 56460 रूपए होनी चाहिए।
वर्ग संबंधी पात्रता
  • इस योजना के अतंर्गत सभी वर्ग की निर्धन कन्याएँ आवेदन कर सकती है।
  • अनुसूचित जाति
  • अनुसूचित जनजाति
  • पिछङा वर्ग
  • सामान्य वर्ग
  • अल्पसंख्यक (समस्त मुस्लिम,सिक्ख,ईसाइ, जैन,बौद्ध पारसी वर्ग)
आयु संबंधी पात्रता
  • विवाह के समय लङकी की न्यूनतम आयु 18 होनी चाहिए।
  • लङकी से विवाह करने वाले युवक की न्यूनतम आयु 21 होना अनिवार्य है।

ऑनलाइन आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज़

  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पहचान पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • विवाह प्रमाण-पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र /शैक्षिक रिकार्ड जिसमें जन्मतिथि अंकित हो/ परिवार कुटुम्ब रजिस्टर प्रमाणित
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

Uttar Pradesh Vivah Anudan Scheme Apply Online

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति , पिछङा वर्ग, सामान्य वर्ग तथा अल्पसंख्यक ऑनलाइन आवेदन हेतु नीचे दिए गए स्टैप फॉलो करें।

  • सबसे पहले उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • अब यहाँ होम पेज पर अपने वर्ग का चयन करें।
  • वर्ग का चयन करने पर आपके सामने आवेदन पत्र खुलेगा।
  • इसके पहले भाग में पुत्री की शादी तिथि, जनपद,क्षेत्र,फोटो, तथा अन्य व्यक्तिगत जानकारियाँ भरें।
  • इसी भाग में मोबाइन नम्बर तथा ई-मेेल आदि की जानकारी भरें।
  • आवेदन पत्र के दूसरे भाग में शादी का विवरण तथा वर का विवरण भरें।
  • फॉर्म के तीसरे भाग में परिवार की आय का विवरण भरें और आगे बढ़े।
  • अब आवेदन पत्र के चौथे तथा अंतिम भाग में बैंक संबंधी जानकारी भरें।
  • ये सभी जानकारियाँ भरकर Save पर क्लिक करें।

Save पर क्लिक करते ही आपको एक पंजीकरण संख्या तथा पासवर्ड प्राप्त होगा।इसे सहेजें।

उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना

Vivah Anudan Yojana Online Apply आवेदन की स्थिति जानें

  • आवेदन की स्थिति जाननें के लिए सबसे पहले इस वेबसाइट पर जाएँ।
  • अब आपके सामने इस प्रकार का लॉगिन पैनल खुल जाएगा।
  • इस लॉगिन पैनल में अपना Application Number, Bank Account number, password भरें।
  • अंत में Catcha भरकर Login पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपका आवेदन पत्र खुल जाएगा । इसमें आप अपने आवेदन की स्थिति देख सकते है।

नो़ट- आवेदन में संसोधन तथा फाइनल सबमिट करने के लिए भी आप यही प्रक्रिया कर सकते है।

Online एप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट निकालें

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन करने के बाद उसका प्रिंट आउट अवश्य निकालें। इस प्रिंट आउट को सभी दस्तावेज़ों के साथ योजना संबंधी कार्यालय में जमा करना होगा।

  • आवेदन पत्र का प्रिंट आउट निकालने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • यहाँ आपके सामने एक लॉगिन पैनल खुल जाएगा।
  • लॉगिन पैनल पर लॉग-इन करें।
  • लॉग-इन करते ही आपके सामने आवेदन पत्र खुल जाएगा। अब आप अपना आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर लें।

शादी अनुदान योजना के नियम व शर्ते

  • आवेदन पत्र की सभी प्रावष्टियाँ अंग्रेजी में भरे।
  • अश्रित लाभार्थी का फोटो तथा हस्ताक्षर/अंगूठा निशान केवल JPEG file में होना चाहिए। जो 20 kb में अपलोड किया गया हो।
  • पहचान पत्र, बैंक पासबुक , आय प्रमाण पत्र , जाति प्रमाण पत्र , विवाह प्रमाण पत्र केवल पीडीएफ फाइल में हो तथा 40केबी से अधिक में अपलोड न हो।
  • आवेदक द्वारा केवल राष्ट्रीयकृत बैंक के खाते ही मान्य होंगे, किसी भी जिला सरकारी बैंक खाता पीएफएमएस पोर्टल पर स्वीकृत नही किए जाएंगे।
  • यदि आवेदक द्वारा जिला सहकारी बैंक के खाते इस योजना में दिए जाते है। तो ऐसे आवेदन कार्यालय द्वारा निरस्त कर दिए जाएंगे।
  • आवेदको को तहसीलदार द्वारा ऑनलाइन जारी जाति, आय प्रमाण पत्र का क्रमांक ऑनलाइन एपिलकेशन फॉर्म में अंकित भरना अनिवार्य होगा।
  • आवेदन केवल विवाह से 90 दिन पहले ही स्वीकार किया जाएगा।

अन्य निर्देश जानें

  • अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति तथा सामान्य वर्ग आवेदन हेतु निर्देश जानने के लिए Click करें।
  • पिछङा वर्ग आवेदन हेतु निर्देश जानने के लिए Click करें।
  • अल्पसंख्यक आवेदन हेतु निर्देश जानने के लिए Click करें।

आवेदन पत्र जमा करें

UP Shadi Anudan Yojana 2020 ऑनलाइन फॉर्म भरकर फॉर्म का प्रिंट आउट निकालें।इसके बाद फॉर्म को अन्य दस्तावेजों के साथ सलंग्न करें। तथा आवेदन पत्र को पंंजीकरण के बाद 30 तीन के भीतर जिला समाज कल्याण कार्यालय में जमा कर दें। यहाँ से आपको एक रसीज प्राप्त होगी, उसे संभाल कर रखेंं।

भूस्वामित्व योजना क्या है- लाभ, पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण

विवाह अनुदान योजना में मिलेगा कितना लाभ

आर्थिक रूप से पिछङे हुए गरीब लोगों को पुत्री के विवाह के लिए अनुदान दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत 51,000 का अनुदान दिया जाता है। जिसका लाभ किसी भी वर्ग के लोग ले सकते है। शादी अनुदान की राशि का निर्धारण वर्गों के आधार पर होता है। किंतु उत्तर प्रदेश की अनुदान राशि न्यूनतम 55,000 है।

सैनिकों की पुत्रियों के लिए लाभ राशि

देश के सेना में शमिल सैनिकों की मृत्यु हो जाने पर उनकी पुत्रियों को राज्य सरकार 1 लाख की धनराशि प्रदान करेगी। राज्यपाल आंनदीबेन की अध्यक्षता में राजभवन में उत्तर प्रदेश के सैनिक पुनर्वास निधि प्रबंध समिति की 47वीं बैठक हुई। इसमें पूर्व सैनिकों की पुत्री के विवाह हेतु अनुदान की 1 लाख धनराशि देने की घोषणा की गई।

योजना के लाभार्थी संख्या

  • अब तक इस योजना के अंतर्गत मार्च 2017 में करीब 478 परिवार लाभन्वित हो चुके है।
  • वर्ष 2018-19 में विवाह अनुदान योजना के अंतर्गत 70.55 करोङ की धनराशि से 35,278 परिवार लाभन्वित हुए।
  • 2019-20 मे योजना के तहत बजट में प्राविधानित 74 करोङ के साक्षेप में 37 करोङ का आवंटन जनपदों को किया चुका है।

UP Shadi Anudan Yojana के उद्देश्य

  • गरीब परिवारों को बेटी के विवाह हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • निर्धन वर्ग परिवारों की पुत्री का विवाह धूमधाम से कराना।
  • विवाह हेतु कर्ज लेने से बचाने का प्रयास
  • राज्य की सामाजिक स्थिति में सुधार करना
  • निर्धन परिवारों की उत्साहवृद्धि करना
  • विधवा, असहाय तथा तलाकशुदा महिलाओं के पुनर्विवाह हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • विकलांग लड़कियों को वित्त सहायता देना

उत्तर प्रदेश निर्माण कामगार पुत्री विवाह अनुदान योजना

Vivah Anudan Yojana UP के अंतर्गत श्रामिकों के पुत्री के विवाह के लिए अनुदान के रूप में वित्त सहायता दी जाती है। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश भवन एवं सन्निनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के माध्यम से अनुदान दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत कन्याओं को 40,000 रूपए की धनराशि अनुदान के रूप में दी जाती है।

कन्या विवाह सहायता योजना के उद्देश्य

उ०प्र० भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्तर्गत पंजीकृत लाभार्थी श्रमिकों की शादी योग्य कन्याओं के विवाह को सुविधापूर्वक तथा सुगम तरीके से पूर्ण कराने हेतु वित्तीय सहायता प्रदान करना तथा कन्याओं को सशक्त करना।

निर्माण कामगार पुत्री विवाह अनुदान योजना के लिए पात्रता

  • सभी पंजीकृत निर्माण श्रमिक (महिला एवं पुरूष)
  • श्रमिक कम की कम से कम पाँच साल की सदस्यता मान्य तथा कुछ धनराशि या अंशदान जमा होना चाहिए।
  • पुत्री की आयु 18 तथा उसके वर की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • बाकी योग्यताएँ विवाह अनुदान योजना के अनुसार होंगी।
योजना के तहत हित लाभ
  • पंजीकृत निर्माण मजदूर को समस्त आवश्यकताओं की पूर्ति की स्थिति में उसकी कन्या के विवाह हेतु रू0 51,000/- की रकम संगठन के माध्यम से वित्त सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • अन्य जाति में विवाह करने हेतु रू0 55,000/- (पचपन हजार रूपये मात्र) की रकम वित्त सहायता के रूप में दी जाएगी।
  • सामूहिक विवाह की स्थिति में न्यूनतम 11 जोड़ों के विवाह एक साथ एक स्थान पर सम्पन्न होने की दशा में (पाँच हजार रूपये मात्र) प्रत्येक वर-वधु की दर से आयोजन में होने वाले खर्च का भुगतान विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत योजना अनुसार आने वाले समय के लिए कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

उत्तर प्रदेश कुष्ठावस्था पेंशन योजना

श्रमिक पुत्री विवाह अनुदान योजना आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज़

  • पंजीकृत निर्माण श्रमिक का पहचान प्रमाण पत्र
  • कन्या के जन्म प्रमाण पत्र की प्रमाणित फोटो प्रति।
  • श्रमिक ने यदि कन्या गोद ली है तो उसके संबंध में आवश्यक दस्तावेज़
  • विवाह योग्य कन्या तथा वर ने 18 वर्ष एवं 21 वर्ष की उम्र विवाहतिथि को पूर्ण कर लिया है।
  • परिवार पंजीकरण की प्रमाणित फोटोकॉपी/स्कूल लीविंग सार्टिफिकेट/जन्म प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति इस हेतु जरूरी होगी।
  • लाभार्थी पंजीकृत श्रमिक के कुटुम्ब रजिस्टर/राशन कार्ड या उसके समतुल्य अन्य कोई अभिलेख जिससे निर्माण श्रमिक के परिवार का विवरण हो, की फोटो प्रति।

निर्माण कामगार पुत्री विवाह अनुदान योजना आवेदन

Vivah Anudan Yojana 2020 में कामगार पुत्री के अंतर्गत विवाह के लिए 50,000 रूपए की धनराशि दी जाएगी। किन्तु अंर्तजातीय विवाह करने पर यह धनराशि 55,000 रूपए होगी।योजना का लाभ पाने के लिए आप ऑफलाइन आवेदन कर सकते है। ऑफलाइन आवेदन आप इस प्रकार कर सकते है।

आवेदन प्रपत्र सलंग्न प्रपत्र पर पंजीकृत लाभार्थी श्रमिक द्वारा समस्त विवरण अंकित करें। तथा समस्त वांछित अभिलेखों के साथ निकटस्थ श्रम कार्यालय या सम्बन्धित तहसील के तहसीलदार में जमा करें। इसके अतिरिक्त आप आवेदन पत्र सम्बन्धित विकास खण्ड विकास अधिकारी को निर्धारित प्रपत्र पर दो प्रतियों में प्रस्तुत करा जाएगा। जिसकी पावती आवेदक को प्रार्थना पत्र प्राप्त करने वाले अधिकारी द्वारा प्राप्त तिथि अंकित करते हुए उपलब्ध कराई जाएगी।

नोट-कामगार पुत्री विवाह अनुुदान के अंतर्गत पुत्री के विवाह की नियत तिथि के दो माह पूर्व से कम अवधि तथा विवाह सम्पन्न होने के 6 माह बाद तक के आवेदन पत्र स्वीकार किए जाएंगे।

आवेदन सम्बन्धी नियम

  • योग्य पंजीकृत श्रमिक को समस्त पूर्ति की स्थिति में उसकी पुत्री के विवाह हेतु रु0 40,000 की धनराशि विभाग द्वारा वित्त सहायता के रुप में दी जायेंगी।
  • मदद पंजीकृत निर्माण श्रमिक की सभी कन्याओं को यह वित्त सहायता विवाह हेतु मान्य होगी।
  • जहाँ पर माता-पिता दोनों ही पंजीकृत निर्माण श्रमिक है, तो दोनों में से किसी एक को ही यह सहायता सुलभ हो सकेगी।
  • वित्तीय सहायता प्रदान किये जाने हेतु केंद्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही अन्य स्कीम में आर्थिक मदद प्राप्त न हुई हो।
  • किसी अन्य प्रशासनीय स्कीम से अगर इस आयोजन हेतु वित्त सहायता प्राप्त हुई है, तो इस योजना के तहत हितलाभ मान्य नहीं होगा।
  • दत्तक पुत्री होने की स्थिति में केवल एक ही दत्तक पुत्री को लाभ मिलेगा।
  • जिस कन्या के विवाह हेतु अनुदान लिया जा रहा है उसके विवाह उपरांत प्रमाण देना अनिवार्य होगा तथा अनुदान की राशि के व्यय का विवरण भी देना होगा।

Vivah Anudan Yojana सम्पर्क सूत्र

निर्माण कामगार पुत्री विवाह अनुदान योजना सम्बन्धी अन्य जानकारी या समस्या समाधान हेतु आप दी गई वेबसाइट पर जा सकते है। तथा इस पर दिए गए पतों पर सम्पर्क कर सकते है।

या आप श्रम विभाग की द्वारा जारी हेल्पलाइन 1800-180-5412 पर सम्पर्क कर सकते है।जो 24*7 उपलब्ध है। इस पर आप सम्पर्क कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते है।

हेल्पलाइन तथा सम्पर्क

यूपी विवाह अनुदान योजना आवेदन सम्बंधी या योजना संबंधी जानकारी के लिए आप इन हेल्पलाइन पर सम्पर्क कर सकते है।

  • अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति तथा सामान्य वर्ग हेल्पलाइन नम्बर
    • 1800-419-0001
  • पिछङा वर्ग हेल्पलाइन नम्बर
    • Deputy Director0522-2288861
    • Toll -Free-Number1800-180-5131
  • अल्पसंख्यक हेल्पलाइन नम्बर
    • Deputy Director 0522-2286199

Leave a Comment