उत्तर प्रदेश गेंहू खरीद किसान पंजीकरण | eproc.up.gov.in, ई-क्रय प्रणाली व एप्लिकेशन स्टेटस

उत्तर प्रदेश गेंहू खरीद किसान पंजीकरण 2021 | यूपी किसान गेंहू खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | ऑनलाइन एप्लिकेशन स्टेटस गेंहू खरीद किसान पंजीकरण

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा इस योजना की शुरूआत किसानों की सुविधा हेतु शुरू की गई है। योजना के अंतर्गत किसानों को अपनी फसल को उचित दामों पर बेचने की सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा ई-क्रय प्रणाली/ई-उपार्जन पोर्टल को शुरू किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से किसान ऑनलाइन पंजीकरण कर सुविधापूर्वक मंडियों या एजेंसियों को निश्चित दिवस व निश्चित समय पर बेच सकते है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों का आर्थिक व सामाजिक विकास करना है, इसके अतिरिक्त किसानों को फसल का उचित मूल्य करना है। बता दें केवल राज्य के मूल निवासी किसान ही इस पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा ले सकते है।

यूपी  गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण

यदि आप भी राज्य के मूल निवासी किसान है तो आप भी ऑनलाइन माध्यम से पंजीकरण कर लाभ उठा सकते है और किसान अपनी फसल का उचित मूल्य प्राप्त कर सकते है।

Table of Contents

यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण

जैसा कि आप जानते है कि कोरोना के कारण सभी व्यापारिक क्षेत्र प्रभावित हुए है। इन व्यापारिक क्षेत्रों में कृषि भी शामिल है। राज्य के किसानों को अपनी फसल बेचने हेतु मंडियों में जाना पड़ता है, जिसके कारण उन्हें वाहन संबंधी, भंडारण संबंधी आदि जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसी स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा इस योजना की शुरूआत की गई है। यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण योजना के अंतर्गत किसानों को ऑनलाइन मंडी की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिसके माध्यम से राज्य के किसान अपनी फसल ऑनलाइन माध्यम से रजिस्टर कर बेच सकेंगे। किसानों की आय में वृद्धि करने हेतु राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है। यह लाभ ऑनलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर प्राप्त किया जा सकता है।

ई-क्रय प्रणाली क्या है, किसान पंजीकरण के क्या लाभ है, क्या विशेषताएं है आदि की जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रदान करेंगे। योजना संबंधित अन्य जानकारी हेतु इस आर्टिकल का पूर्ण अध्ययन करना होगा।

यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण पोर्टल – किसान पंजीकरण

ई- क्रय प्रणाली एक इलेक्ट्रानिक पोर्टल है। यह पोर्टल कृषि मंडियाँ किसानों को उपलब्ध करवाता है। यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण पोर्टल को लघु कृषक कृषि व्यापार संघ एवं राज्य द्वारा लांच किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को पंजीकृत कर उन्हें राजकीय कृषि मंडियों से जोड़ता है। यह राष्ट्रीय कृषि मंडियाँ एवं एपीएमसी मंडियों के मध्य ऑनलाइन नेटवर्क को जोड़ता है। इस प्रकार यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण पोर्टल पर पंजीकृत किसान अपनी फसल को ऑनलाइन माध्यम से बेच सकते है, जिसका सीधा लाभ उन्हें बैंक के माध्यम से प्रदान कर दिया जाएगा। इस प्रकार किसानों की फसल खराब होने से बचेगी। इसके अतिरिक्त भंडारण एवं परिवहन आदि से संबंधित समस्याओं का सामना किसानों को नही करना पड़ेगा। इसके अतिरिक्त किसानों की फसल की सुरक्षा हेतु यह एक कल्याण कारी कदम है, जिसका लाभ देश के सभी कृषकों को प्रदान किया जाएगा।

किसान फसल खरीद हेतु क्रियान्वित एजेंसियाँ

यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण पोर्टल द्वारा किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण कर अपनी फसल को बेचने की सुविधा प्रदान की जाएगी। ऑनलाइन खरीद हेतु विभाग द्वारा 11 एजेंसियों को सम्मिलित किया गया हैै। इन एजेंसिंयों में 7 एजेंसियां केंद्र सरकार द्वारा संचालित होंगी। इसके अतिरिक्त अन्य राज्य सरकार स्तर होंगी। यूपी सरकार द्वारा इस योजना के क्रियान्वन हेतु करीब 5612 क्रय केंद्रों को स्थापित किए जा चुके है। इसके अतिरिक्त राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद द्वारा 48 जिलों में करीब 110 गेंहू खरीद क्रय केंद्र स्थापित किए जाएंगे। बता दें इन केंद्रों पर गेंहू खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य करीब 1975 रूपए क्विंटल होगा।

गेंहू खरीद किसान रजिस्ट्रेशन की विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी द्वारा इस योजना की शुरूआत की गई है।
  • राज्य के किसान इसके अंतर्गत पंजीकृत होने के पात्र होंगेे।
  • खाद्य एवं रसद विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा योजना का क्रियान्वन किया जाएगा।
  • यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण के अंतर्गत किसानों को अपनी फसल को उचित दामों पर बेचने की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इसके लिए राज्य सरकार द्वारा ई-क्रय प्रणाली/ई-उपार्जन पोर्टल को शुरू किया गया है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से किसान ऑनलाइन पंजीकरण कर सुविधापूर्वक मंडियों या एजेंसियों को निश्चित दिवस व निश्चित समय पर बेच सकते है।
  • ऑनलाइन खरीद हेतु विभाग द्वारा 11 एजेंसियों को सम्मिलित किया गया हैै, इन एजेंसिंयों में 7 एजेंसियां केंद्र सरकार द्वारा संचालित होंगी।
  • किसान पंजीकरण द्वारा गेंहू खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य करीब 1975 रूपए क्विंटल होगा।
  • यूपी सरकार द्वारा यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण के क्रियान्वन हेतु करीब 5612 क्रय केंद्रों को स्थापित जा चुके है।

यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण का संक्षिप्त विवरण

आर्टिकल का विषयफसल खरीद हेतु किसान पंजीकरण
संबंधित राज्यउत्तर प्रदेेश
शुरू किया गयामुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी द्वारा
संबंधित विभागखाद्य एवं रसद विभाग उत्तर प्रदेश
लाभार्थीराज्य के किसान
लाभफसल बेचने हेतु ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा
अधिकारिक वेबसाइटClick here

गेंहू खरीद किसान पंजीकरण करने हेतु पात्रता

  • यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के मूल निवासी किसान ही उठा सकते है।
  • किसी भी श्रेणी के किसान इस पोर्टल पर पंजीकृत हो सकते है।
  • कृषि मंडी में पंजीकृत होने हेतु न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिएं।
  • आवेदक किसान का बैंक खाता किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में होना चाहिएं।
  • लघुु व सीमांत किसान भी इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

यूपी ई-क्रय प्रणाली में पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नम्बर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • खसरा खतौनी की नकल
  • फसल का विवरण (मात्रा, प्रकार आदि)

यूपी गेंहू खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण 2021

उत्तर प्रदेश गेंहू खरीद किसान ऑनलाइन पंजीकरण 2021 करने हेतु नीचे दिए गए स्टैप फॉलो करें।

  • गेंहू खरीद हेतु ऑनलाइन किसान रजिस्ट्रेशन करने हेतु सर्वप्रथम खाद्य एवं रसद विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको इस प्रकार का होम पेज दिखेगा। होम पेज पर आपको गेंहू खरीद किसान पंजीकरण विकल्प पर क्लिक करना होगा।
ऑनलाइन यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण
यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण ऑनलाइन
  • विकल्प पर क्लिक करने पर इस प्रकार का इंटरफेस खुल जाएगा।
  • यहां आपको अपना मोबाइल नम्बर अंकित करना होगा।
  • अब अंत में आपको कैप्चा भरकर आगे बढ़े बटन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने पर आपकी स्क्रीन पर पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा। यहां आपको अपना व्यक्तिगत, संपर्क, निवास, बैंक खाता विवरण, फसल विवरण आदि भरना होगा।
  • अब अंत में फॉर्म सबमिट करना होगा। फॉर्म सबमिट करने पर आपको एक पंजीकरण आईडी व पासवर्ड प्राप्त होगा, उसे सहेजें।

किसान पंजीकरण गेंहू खरीद प्रारूप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

ऑनलाइन फॉर्म रजिस्ट्रेशन कर्रेक्शन करने की प्रक्रिया

  • किसान पंजीकरण में ऑनलाइन सुधार करने हेतु सबसे पहले इस डारेक्ट लिंक पर जाएं। लिंक पर जाने के उपरांत आपकी स्क्रीन पर इस प्रकार का इंटरफेस खुलेगा।
  • यहां आपको किसान मोबाइल नम्बर भरना होगा।
  • अब अंत में कैप्चा भरकर आगे बढ़े बटन पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन खुल जाएगा, आप इसमें ऑनलाइन संशोधन कर सकते है।

रजिस्ट्रेशन प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • किसान पंजीकरण प्रिटं करने हेतु सबसे पहले इस डारेक्ट लिंक पर जाएं। लिंक पर जाने के उपरांत आपकी स्क्रीन पर इस प्रकार का इंटरफेस खुलेगा।
  • यहां आपको किसान मोबाइल नम्बर भरना होगा।
  • अब अंत में कैप्चा भरकर आगे बढ़े बटन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने पर आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन खुल जाएगा, आप इसे प्रिटं या डाउनलोड कर सकते है।

मोबाइल एप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • क्लिक करने पर आपकी मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड हो जाएगी।

ई-क्रय प्रणाली उत्तर प्रदेश किसान पंजीकरण के उद्देश्य

  • एकीकृत बाजारों में प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करके, खरीदारों और विक्रेताओं के बीच सूचना की विषमता को दूर करना।
  • वास्तविक मांग और आपूर्ति के आधार पर उचित वास्तविक मूल्य की खोज को बढ़ावा देकर कृषि विपणन में एकरूपता को बढ़ाना देना इस योजना का प्रमुख उद्देश्य है।
  • कृषि उत्पादों के अखिल भारतीय व्यापार की सुविधा के लिए एक आम ऑनलाइन मार्केट प्लेटफॉर्म के माध्यम से देश भर में एपीएमसी का एकीकरण करना।
  • ऑनलाइन भुगतान के साथ उत्पादन की गुणवत्ता के आधार पर पारदर्शी नीलामी प्रक्रिया के माध्यम से बेहतर कीमत प्रदान करना है।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों की आर्थिक विकास में संतुलन बनाएं रखना है।
  • कृषि क्षेत्र को व्यावसयिक रूप से स्थापित करना और एक विशेष पहचान देने हेतु योजना की शुरूआत की गई है।
  • किसानों के आर्थिक एवं सामाजिक विकास में सुधार करना योजना का प्रमुख लक्ष्य है।
  • कृषकों को उनकी फसल के सही मूल्य दिलाने हेतु योजना को कार्यान्वन किया जा रहा है।
  • यूपी गेंहू खरीद किसान पंजीकरण के माध्यम से कहीं-न-कहीं किसानों मनोबल में वृद्धि होगी ।
  • कृषि में निवेश हेतु किसानों को प्रोत्साहित करना इस योजना के अतंर्गत महत्वपूर्ण विचार है।
  • इसके अतिरिक्त किसान अपनी फसल रखरखाव के भय से मुक्त हो सकेंगे।
  • इस प्रकार यह कहा जा सकता है कि इस योजना की शुरूआत किसानों के हित एवं कल्याण हेतु शुरू की गई है।

हेल्पलाइन एवं संपर्क

उत्तर प्रदेश गेंहू खरीद किसान पंजीकरण से संबंधित अन्य प्रकार की जानकारी या समस्या समाधान हेतु नीचे दी गई हेल्पलाइन पर संपर्क करें।

हेल्पलाइन – 1800 1800 150

Leave a Comment