प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना: PMGKY ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म व लाभ

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पंजीकरण | PM Garib Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना | PMGKY 2020-21

30 जून 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एक संबोधित भाषण के माध्यम से संबोधित किया। उन्होंने भारत में COVID-19 प्रभाव से निपटने के लिए सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों के बारे में विस्तार से बताया और “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना” की वैधता के नवंबर अंत तक विस्तार की घोषणा की। जो अगले पांच महीनों के लिए है, जिसमें दीपावली छठ पूजा के त्योहार भी शामिल हैं! क्या आप PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA- PMGKY के बारे में जानते हैं?

PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA- PMGKY

Table of Contents

क्या है PMGKY- प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना ?

30 जून 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना के नवंबर अंत तक विस्तार की घोषणा की! PIB के अनुसार, लॉकडाउन अवधि के दौरान “80 करोड़ गरीबों को हर महीने मुफ्त में 5 किलो गेहूं; या चावल और 1 किलो दाल मिलीं हैं! उन्होंने कहा कि योजना के विस्तार पर सरकार ने 90,000 करोड़ रुपये का खर्च किया है! उन्होंने आगे कहा कि समय पर लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने देश के लाखों लोगों की जान बचाई है! जैसा कि अब हमने ‘अनलॉक 2’ चरण में प्रवेश किया है! उन्होंने नागरिकों को चेतावनी दी है; कि वह सोशल डिस्टन्सिंग को बनाए रखें और COVID-19 को फैलने से रोकने के लिए सभी सम्बंधित सावधानीया बरतें।

PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA (PMGKY) की विशेषताएं

कोरोना राहत के उद्देश्य का समर्थनन करते हुए, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की :-

  • केंद्र सरकार ने भवन और निर्माण श्रमिकों को राहत देने के लिए राज्य सरकारों को 31,000 करोड़ के फंड का उपयोग करने के आदेश दिए हैं।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) में गरीबों और प्रवासियों को नकद धन राशि के हस्तांतरण शामिल होंगे।
  • गरीब कल्याण योजना (खाद्य योजना) के तहत लगभग 80 करोड़ लोगों को लाभ हुआ है!
  • इसके अतिरिक्त, सभी योग्य पात्रों को सरकारी राशन विक्रेताओं के माध्यम से पहले से जो कुछ भी मिल रहा है! उसे अतिरिक्त मुफ्त में 5 किलोग्राम गेहूं / चावल मिलेगा!
  • सरकार नवंबर के अंत तक प्रत्येक परिवार को उनकी पसंद का 1 किलो दाल मुहैया कराएगी।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-KISAN) योजना के माध्यम से, किसानों को हर साल 6000 मिल रहे हैं! सरकार अब इस योजना की पहली किश्त देगी।
  • अनुमान है; कि इस योजना के माध्यम से लगभग 8.69 करोड़ किसानों को तुरंत लाभ होने की उम्मीद है! क्या है प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ? जानें यहाँ पूरी जानकारी।
  • सरकार को उम्मीद है कि मनरेगा के माध्यम से मजदूरी वृद्धि से लगभग 13.62 करोड़ परिवारों को लाभ होगा!
  • यह प्रत्येक श्रमिक की आय में 2000 रूपए की एक अतिरिक्त राशि होगी।
  • सरकार ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ के अंतर्गत कुल आठ वर्गों के लोगों को नक़द धन राशि का लाभ उपलब्ध कराएगी!
  • Garib Kalyan Yojana के तहत इन आठ वर्गों में शामिल होंगे किसान, मनरेगा श्रमिक, विधवा, गरीब पेंशनभोगी, दिव्यांग, जन धन योजना के तहत महिलाएं
  • उज्जवला योजना के तहत महिलाएं और घर, आजीविका मिशन, महिलाओं के लिए स्वयं सहायता समूह, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO); ​​के तहत संगठित क्षेत्र के श्रमिक और निर्माण श्रमिक।
  • सभी योग्य पात्रों के खतों में सरकार नकद धनराशि हस्तांतरण करेंगी।

उत्तर प्रदेश राशन कार्ड सूची- APL & BPL List 2021

कब मिलेगा गरीब कल्याण योजना का लाभ

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana 3.0 अगस्त 2020 से लेकर और अगले तीन महीनों के लिए बढ़ा दी गई है! वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि अगले तीन महीनों के लिए ईपीएफ या कर्मचारी भविष्य निधि का योगदान कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए 10% होगा! उन्होंने आगे कहा कि क्योंकि वैधानिक दायित्व 12% है इसीलिए केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम और राज्य सार्वजनिक उपक्रम 12% का भुगतान करना जारी रखेंगे! इन सार्वजनिक उपक्रमों के कर्मचारियों को केवल 10% का भुगतान करने का लाभ दिया जाएगा! COVID-19 के बीच लॉकडाउन के खिलाफ लड़ने और “आत्म निर्भर भारत” बनाने के लिए कई अन्य उपाय किए जा रहे हैं! क्या है प्रधानमंत्री “आत्म निर्भर भारत” अभियान ? जानें यहाँ। पूरी जानकारी।

PM GARIB KALYAN YOJANA- PMGKY

आखिर में आपको बता दें कि यह योजना तुरंत लागू हो जाएगी! लोगों को 1 अप्रैल, 2020 से इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा! इसलिए इस योजना का गरीब कल्याण पैकेज रखा गया हैं; जो गरीब और जरूरतमंदों के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लॉकडाउन के दूसरे दिन घोषित किए गया है; ताकि दैनिक मजदूरी करने वाले श्रमिकों को आर्थिक संकट से लड़ने के लिए लाभ मिल सके।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना- PMKGY (विस्तार में)

सबसे पहले PM Garib Kalyan Yojana के अन्तर्गत आने वाले खाद्य अनाज / राशन लाभों के बारे में बात करते हैं :-

5 किलो अतिरिक्त मुफ्त अनाज

सभी राशन कार्डधारकों को जो भी अनाज मिल रहा है उस्से अतिरिक्त अतिरिक्त 5 किलो राशन मिलेगा चाहे वह चावल हो या गेहूं और यह मुफ्त होगा, इसके लिए किसी को भी एक पैसा ज़्यादा नहीं देना होगा और यह अगले तीन महीने के लिए दिया जाएगा।

1 किलो मुफ्त दाल

सभी राशन कार्ड धारक को अगले तीन महीने के लिए राशन डीलर से 1 किलो दाल मुक्त भी मिलेगी, विभिन्न क्षेत्रों के अनुसार उपलब्ध विकल्प कुछ भी हो सकता है यह लोगों पर निर्भर करेगा कि वे क्या पसंद करते हैं, वित्त मंत्री ‘निर्मला सीतारमण’ ने कहा। इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना- PMKGY के साथ पूरे भारत में 80 करोड़ लोग लाभान्वित होंगे।

मनरेगा मजदूरों की प्रतिदिन मजदूरी में बढ़ोतरी

मनरेगा मजदूर के लिए बढ़ा सभी श्रमिक जो मनरेगा के के अंतर्गत पंजीकृत हैं, उन्हें पहले 202 रुपये की वृद्धि मिलेगी जो पहले 182 थी और अब उन्हें प्रति दिन 202 रुपये मिलेंगे और इसका सीधा लाभ 5 करोड़ से अधिक परिवार को मिलेगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण स्वास्थय बीमा योजना

डॉक्टर, नर्सों और अन्य स्वास्थय कर्मियों जो आवश्यक सेवाओं के अंतर्गत आते हैं और इस घातक कोरोना – वायरस महामारी से लड़ने में जुटे हुए हैं। उनके लिए सरकार एक बीमा योजना भी लेकर आयी है जो सभी स्वास्थय कर्मियों को 50 लाख रूपए का बीमा प्रदान करेगी।

सरकार करेगी कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) का भुगतान

वित्त मंत्री “निर्मला सीतारमण” ने अपने बयान में यह भी कहा कि साकार कर्मचारी और नियोक्ता की ओर से (EPF) का भुगतान करने वाली है, लेकिन केवल तब अगर उनकी कंपनी में 100 से कम कर्मचारी हैं और जिनकी मासिक आय 15000 रूपए से कम है। सरकार कर्मचारीयो और नियोक्तााओं दोनों को अलग अलग को 12% का भुगतान करेगी। अगले तीन महीनों के लिए।

विध्वा / वृद्ध / विकलांग पेंशनभोगियों को अतिरिक्त लाभ।

सरकार की तरफ गरीब विधवा महिलाओं, विखलागों और 60 वर्ष की आयु से ऊपर के नागरिकों को जो पेंशन दी जा रही है, उनको एक अतिरिक्त पेंशन राशि दी जाएगी। इसके अनतर्गत अगले तीन महीनों के लिए उनके खाते में अतिरिक्त 1 हज़ार रुपये प्रति माह मिलेंगे, ताकि ऐसा न हो की इस लॉकडाउन के दौरान उन्हें किसी भी समस्या का सामना करना पड़े और यह राशि सीधे उनके खाते में दो किस्तों में जमा की जाएगी।

जन धन खाता धारकों को लाभ

20 करोड़ से अधिक महिलाएँ हैं जिनके पास जन धन योजना खाता है। इन सभी खाताधारकों को अगले तीन महीने के लिए 500 रूपए प्रतिमाह का लाभ मिलेगा और यह राशि सीधे उनके खाते में दो किश्तों में जमा की जाएगी, ताकि उन्हें लॉकडाउन की अवधि के दौरान आने वाली किसी भी आर्थिक समस्या का सामना करने में सहायता मिले।

2 अप्रैल 2020 से जन धन खाता धारकों को इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो गया है। अगर आपके अकाउंट मै अभी तक योजना के तहत पैसा नहीं आया तो निश्चिंत रहे क्योंकि पैसा आपके अकाउंट नंबर के आखरी अंकों के अनुसार ही क्रेडिट किया जायेगा। जैसे की अगर आपके खाते की आखरी संख्या 2 या 3 है तो आपको पैसा 4 अप्रैल को मिलेगा, अगर यह संख्या 4 या 5 है तो 7 अप्रैल। 6 – 7 संख्या वाले खाताधारकों को 8 अप्रैल को लाभ का पैसा ट्रांसफर किया जायेगा। अंत में 8 और 9 वाले खातों में 9 अप्रैल को धन राशि जमा की जाएगी।

Madhya Pradesh Ration Card List- APL & BPL

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना

PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA- PMGKY में भोजन और नकदी के साथ परिवार को सुरक्षित करने के बाद अब सरकार उन लोगों की मदद करने की कोशिश कर रही है जो पहले से ही उज्वल योजना के तहत लाभ प्राप्त कर रहे हैं और इस योजना में इन उजवल LPG गैस धारकों को अगले तीन महीने तक मुफ्त में सिलेंडर मिलेगा और उन्हें LPG सिलिंडर के कीमत का कुछ भी भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।

PMGKY- PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA

गृह निर्माण मजदूरों के लिए

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि उनके पास पहले से ही भवन और अन्य निर्माण श्रमिकों (BOCW) के कल्याण के लिए एक मौजूदा निधि है और इसके लिए उपलब्ध कराई गयी कुल राशि 31 हज़ार करोड़ रुपये है और इस राशि का उपयोग 3.5 Cr निर्माण श्रमिकों को लाभ पहुंचाने के लिए किया जा सकता है और सरकार ने राज्य सरकारों को भी सुझाव दिया है श्रमिकों के कल्याण के लिए इसका उपयोग करना चाहिए।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना मैन पॉइंट

योजना का नामप्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना
किसने शुरू कीमाननिये प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थीदेश 80 करोड़ लाभार्थी लोग
ऑफिसियल वेबसाइट फॉर मोर इनफार्मेशन www.pib.nic.in
उद्देश्यगरीब लोगो को राशन पर सब्सिडी प्रदान करना
लास्ट डेट तो अप्लाई नॉट अवेलेबल
स्टार्टिंग डेट टू अप्लाई 26 मार्च 2020

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana के तहत उपलब्ध अन्य लाभ

  • अगले तीन महीनों के लिए सभी दिव्यांग, गरीब वरिष्ठ नागरिक और विधवाओं को 1000 रूपए प्रतिमाह मिलेंगे।
  • सरकार ने लघु उद्यमों के लिए संपार्श्विक-मुक्त ऋणों की राशि को 20 लाख रूपए से 63 लाख रूपए तक बढ़ा दिया है! देश में लघु उद्यम लगभग 85 करोड़ लोगों परिवारों को रोज़गार प्रदान करते हैं।
  • प्रत्येक स्वास्थ्यकर्मी को 50 लाख का चिकित्सा बीमा कवर प्रदान किया जायेगा।
  • गरीबी रेखा से नीचे की आबादी के लगभग 8.3 करोड़ परिवारों की तीन महीने के लिए मुफ्त एलपीजी सिलेंडर मिलेंगे।
  • अगले तीन महीनों के लिए भारत सरकार कर्मचारी और नियोक्ता दोनों को (12% प्रत्येक); ईपीएफ योगदान का भुगतान करेगी। मुख्य रूप से यह उन संसथानों के लिए है! जिसमें 100 या उससे कम कर्मचारी हैं, जिनमें से 90% या उस्से अधिक 15,000 रूपए प्रतिमाह से कम कमाते हैं।
  • संगठित क्षेत्र के लिए, ईपीएफओ योजना के नियमों में संशोधन किया जाएगा; ताकि श्रमिक के क्रेडिट को तीन महीने की मजदूरी (या जो भी कम हो) की 75% की गैर-वापसी योग्य एडवांस राशि की अनुमति दी जा सके! ऐसा अनुमान है कि इससे 4.8 करोड़ श्रमिकों को फायदा होगा जो ईपीएफ में पंजीकृत हैं; और पैसे निकालने की स्थिति में हैं।
  • ‘जन – धन’ खाताधारक जो लगभग 20 करोड़ महिलाएं हैं, उन्हें अपने घरों के खर्चे को चलाने के लिए अगले तीन महीनों के लिए उनके खतों में 500 रूपए प्रति माह की पूर्व-अनुदान राशि दी जाएगी।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana Update

COVID-19 महामारी के कारण, गरीबों और जरूरतमंदों पर पड़े आर्थिक प्रभाव का सामना करने में उन्हें सक्षम बनाने के लिए; 26 मार्च 2020 को पीएम नरेंद्र मोदी ने सरकार का नेतृत्व किया; और 1.7 लाख करोड़ के ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ (PMGKY) पैकेज की घोषणा की! इसके अलावा, आइये हम वित्त मंत्री ‘निर्मला सीतारमण’ द्वारा घोषित प्रमुख हाइलाइट्स पर एक नजर डालते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) भारत सरकार द्वारा 2016 में शुरू की गई थी! इस योजना के अंतर्गत आयकरदाताओं को अपने अवैध धन की घोषणा करके मुकदमा चलाने से बचने मौका दिया जाता है! यह योजना आघोषित आय, गैर कानूनी तरीकों से बचाया गया कर आदि जैसे जुरमाना लगाने के योग्य धन जो निर्दिष्ट संस्था (जिसमें बैंक, डाकघर आदि शामिल हैं); के साथ नकद या जमा के रूप में अज्ञात आय वाले व्यक्तियों को एक अवसर प्रदान करती है।

सभी को अपनी अज्ञात धन और संपत्ति का 49.9 प्रतिशत जुर्माने के तौर पर सरकार को भुगतान करना होगा! इस तरह से व्यक्ति अपनी आघोषित आय को कानूनी तरह से स्वीकार्य बना सकतें हैं! इसके अलावा, यह योजना प्रतिबंधित करती है कि; इस तरह की आय का कम से कम 25% ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ जमा करना अनिवार्य है ! जिसका इस्तेमाल देश के पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को सहायता पहुंचने में किया जायेगा।

PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA – PMGKY PDF DOWNLOAD

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना PMGKY CONCLUSION

इस बात में कोई संदेह नहीं है की पूरी दुनिया इस कोरोना महामारी से जूझ रही है और भारत भी इससे बचा हुआ नहीं है! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा के दौरान इस तथ्य को भी दोहराया कि दुनिया के अन्य देशों की तुलना में भारत की कोरोना – वायरस मृत्यु दर कम है; और उन्होंने इसके लिए सरकार के जल्दी लॉकडाउन लागू करने के फैसले को जिम्मेदार ठहराया था! उन्होंने कल्याणकारी योजना को सफल बनाने में किसानों और ईमानदार कर दाताओं को उनके योगदान के लिए, उनका भी धनयवाद किया।

गरीब कल्याण योजना का क्रियान्वन

PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA (PMGKY) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा अर्थव्यवस्था और गरीबों पर लॉकडाउन के प्रभाव को कम करने के लिए घोषित 1.7 लाख करोड़ रुपये का वित्तीय पैकेज है। मौजूदा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम देश के गरीबों को 2-3 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से मासिक 5 किलोग्राम खाद्य अनाज प्रदान करता है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – PMGKY के तहत, राशन कोटे को मार्च में अगले तीन महीनों के लिए मुफ्त में एक और 5 किलो बढ़ाया गया।

गरीबों पर इस सम्पूर्ण लॉकडाउन के प्रभाव को कम करने के लिए PRADHAN MANTRI GARIB KALYAN YOJANA- PMGKY योजना के तहत सरकार द्वारा उठाये गए यह कदम सराहनीय हैं।

Leave a Comment