[रजिस्ट्रेशन] महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021 | स्वाधार योजना पीडीएफ फॉर्म

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर स्वाधार योजना | महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021 | स्वाधार योजना क्या है | ऑनलाइन आवेदन महाराष्ट्र स्वाधार योजना

राज्य के विद्यार्थियों हेतु राज्य सरकार द्वारा स्वाधार योजना की शुरूआत की गई है। इस योजना के अतंर्गत राज्य के 10वीं 12वीं उत्तीर्ण छात्रों को लाभन्वित किया जाएगा। योजना के अंतर्गत SC व NP श्रेणी के छात्रों को छात्रावास से संबंधित सुविधाओं हेतु वित्त सहायता प्रदान की जाएगी, जिससे छात्र अपनी पढ़ाई सुविधापूर्वक कर सकें। इस योजना का लाभ केवल राज्य के नागरिकों को ही दिया जाएगा।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021

स्वाधार योजना के अंतर्गत जो भी छात्र-छात्राएं लाभ पाने के इच्छुक है वे ऑनलाइन माध्यम से आवेदन पत्र डाउनलोड कर आवेदन कर सकते है।

Table of Contents

महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021

महाराष्ट्र की राज्य सरकार द्वारा इस योजना की शुरूआत की गई है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के उन विद्यार्थियों हेतु शुरू की गई है, जो विद्यार्थी छात्रावास, बोर्डिंग, लॉजिंग आदि की सुविधा लेने के इच्छुक है। इस योजना के माध्यम से सरकार ऐसे छात्रों को वित्त सहायता प्रदान करेगी। योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य छात्रों की पढ़ाई को सुलभ तथा सरल बनाना है। इसके अतिरिक्त योजना के अंतर्गत सभी अनुसूचित एवं नव बौद्ध श्रेणी विद्यार्थियों को लाभन्वित किया जाएगा। योजना का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों को आत्मनिर्भर बनाना तथा सशक्त करना है। इस योजना के माध्यम से राज्य के विद्यार्थियों को छात्रावास की सुविधाएं आदि देने का प्रयास किया गया है।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना क्या है, इसके क्या लाभ है, इसकी क्या विशेषताएं है यह सभी जानकारी हम इस आर्टिकल के माध्यम से प्रदान करेंगे। योजना से संंबंधित सभी जानकारी के लिए इस आर्टिकल का पूर्ण अध्ययन करें।

स्वाधार योजना महाराष्ट्र

राज्य सरकार द्वारा महाराष्ट्र स्वाधार योजना की शुरूआत की गई है। इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति एवं नव बौद्ध श्रेणी के विद्यार्थियों को लाभन्वित किया जाएगा। इसमें 10वीं एवं 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद की शिक्षा हेतु वित्त सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना के अतंर्गत छात्रों को आवास, बोर्डिंग आदि की सुविधा हेतु 51 हजार की धनराशि का प्रावधान है। जिन छात्रों को पढ़ाई करने हेतु बोर्डिंग, छात्रावास आदि की आवश्यकता होती है, उन्हें इस योजना के अतंर्गत लाभन्वित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को लाभन्वित किया जाएगा।

राज्य सरकार द्वारा इस योजना की शुरूआत निर्धन परिवारों को विद्यार्थियों को देने हेतु तथा उनका कल्याण करने हेतु शुरू की गई है। स्वाधार योजना के अंतर्गत राज्य के विद्यार्थियों ऑनलाइन माध्यम से आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है और आवेदन कर सकते है। इसके अतिरिक्त पढ़ाई के अतिरिक्त खर्च का वहन करने हेतु सरकार वित्त लाभ प्रदान करेगी।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के अंतर्गत केवल महाराष्ट्र राज्य के विद्यार्थियों को लाभन्वित किया जाएगा।
  • योजना के माध्यम से नव बौद्ध एवं अनुसूचित जाति को लाभन्वित किया जाएगा।
  • स्वाधार योजना के अतंर्गत करीब 51,000 की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • इसके अतिरिक्त इस योजना के अंतर्गत आप ऑनलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते है।
  • योजना का लाभ केवल 10वीं व 12वीं कक्षा के बाद डिप्लोमा, पेशेवर डिप्लोमा आदि करने वाले विद्यार्थियों को दिया जाएगा।
  • ग्रामीण एवं शहरी दोनों इस योजना के अंतर्गत लाभन्वित हो सकते है।
  • महाराष्ट्र स्वाधार योजना का लाभ राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को दिया जाएगा।
  • इस योजना में आवेदन करने हेतु अक्षम/विकलांग विदयार्थियों द्वारा 40 प्रतिशत अंक अर्जित करने अनिवार्य होंगे।
  • स्वाधार योजना महाराष्ट्र समाज कल्याण विभाग की ओर से क्रियान्वित एक योजना है।
  • इस योजना के अतंर्गत छात्र एवं छात्रा दोनों को लाभन्वित किया जाएगाा।
  • स्वाधार योजना के अतंर्गत बोर्डिंग सुविधा हेतु 28,000 की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इसके अतिरिक्त लॉजिंग सुविधा हेतु 15,000 एवं अन्य खर्च हेतु 8 हजार रूपए की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत मेडिकल एवं इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों हेतु 5,000 रूपए अतिरिक्त प्रदान किए जाएंगे।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना का संक्षिप्त विवरण

योजना का नाम महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021
संबंधित राज्यमहाराष्ट्र
शुरू की गईराज्य सरकार द्वारा
संबंधित विभागसमाज कल्याण विभाग, महाराष्ट्र
लाभार्थीNP, SC श्रेणी के छात्र
लाभपढ़ाई से संबंधित बोर्डिंग हेतु वित्त सहायता
अधिकारिक वेबसाइटClick here

बाबासाहब अंबेडकर स्वाधार योजना पंजीकरण

इस योजना के अतंर्गत आवेदन करने हेतु जारी पाठ्यक्रम की अवधि 2 वर्ष से कम होनी अनिवार्य है। इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु पारिवारिक वार्षिक आय 2.5 से कम होनी अनिवार्य है। योजना में आवेदन करने हेतु छात्र-छात्राओँ को 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होंगे। यदि छात्र-छात्रा अक्षम या विकलांग है तो 40 प्रतिशत अंक वाले छात्र इस योजना के अंतर्गत लाभ के पात्र होंगे। स्वाधार योजना के अंतर्गत विद्यार्थियो के बैंक खाते के माध्यम से हितलाभ ट्रांसफर किया जाएगा, इसलिए यह भी आवश्यक है कि लाभार्थी का बैंक खाता आधार एवं मोबाइल नम्बर से लिंक होना चाहिएं।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के उद्देश्य

  • महाराष्ट्र की शिक्षा प्रणाली में सुधार करना और विकास करना करने हेतु योजना की शुरूआत की गई है।
  • राज्य में मेधावी छात्रों की उच्च शिक्षा के सुधार हेतु राज्य सरकार ने योजना का आरंभ किया है।
  • गरीब परिवारों को शिक्षित करना तथा उनका सामाजिक विकास करना भी इस योजना में शामिल उद्देश्य है।
  • राज्य के निर्धन बच्चे शिक्षा के अधिकार से वंछित न रहे इसी सोच के साथ योजना का क्रियान्वन किया जा रहा है।
  • आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।
  • पारिवारिक कारणों से कई विद्यार्थी अपनी पढ़ाई छोड़ देते है जिसके कारण वे अपनी पढ़ाई को पूरा नही कर पाते।
  • निर्धन परिवारों को समानता का अधिकार देना और सशक्त करना इस योजना का लक्ष्य है।
  • राज्य के बच्चों के विकास में ही राज्य का विकास निहित होता है।
  • अनुसूचित जाति एवं नव बौद्ध समुदाय को इस योजना से लाभन्वित करना इस योजना आधार है।
  • समाज में जाति के प्रति नकारात्मक भावना रखने वालों के लिए यह योजना एक उपयुर्कत उदाहरण होगी।
  • राज्य के बच्चो को इस योजना के माध्यम से वित्त लाभ द्वारा लाभन्वित करने का लक्ष्य रखा गया है।

स्वाधार योजना का अनुदान स्वरूप

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के अतंर्गत करीब 51,000 रूपए की वित्त सहायता प्रदान की जाएगी। यह वित्त सहायता नीचे दी गई सूची में अंकित सुविधाओं हेतु प्रदान की जाएगी।

सुविधाएँवित्त सहायता
बोर्डिंग सुविधा28,000/-
विविध सुविधा8,000/-
लॉजिंग सुविधा15,000/-
मेडिकल एवं इंजीनियरिंग हेतु5,000 रूपए अतिरिक्त
अन्य शाखाएं2,000 रूपए अतिरिक्त
कुल व्यय51,000/-

बाबासाहेब अम्बेडकर स्वाधार योजना में आवेदन हेतु पात्रता

  • इस योजना के अतंर्गत आवेदन करने हेतु महाराष्ट्र के मूल निवासी विद्यार्थी ही इस योजना के पात्र होंगे।
  • 10वीं एवं 12वीं उत्तीर्ण छात्र ही इस योजना के पात्र होंगे।
  • इस योजना में 2 वर्ष के पाठ्यक्रम हेतु ही वित्त सहायता प्रदान की जाएगी।
  • एससी एवं एनपी समुदाय वर्ग के लोग इस योजना के तहत आवेदन कर सकते है।
  • इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु पारिवारिक वार्षिक आय 2.5 से कम होनी चाहिएं।
  • योजना में आवेदन करने हेतु छात्र-छात्राओँ को 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होंगे।
  • छात्र-छात्रा दोनों इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर लाभ ले सकते है।
  • ग्रामीण तथा शहरी दोनों इस योजना के पात्र होंगे।
  • यदि छात्र-छात्रा अक्षम या विकलांग है तो 40 प्रतिशत अंक वाले छात्र इस योजना के अंतर्गत लाभ के पात्र होंगे।

स्वाधार योजना महाराष्ट्र में आवेदन करने हेतु आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्बर
  • निवास प्रमाण पत्र

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के तहत आवेदन

इस योजना के अतंर्गत आवेदन करने हेतु आपको सबसे पहले समाज कल्याण विभाग कार्यालय में जाना होगा। कार्यालय में जाकर आवेदन पत्र प्राप्त करें। आवेदन पत्र प्राप्त करने के उपरांत आपको वह फॉर्म सावधानीपूर्वक भरना होगा। फॉर्म भरने के बाद उस फॉर्म को सावधानीपूर्वक भरें। फॉर्म भरने के बाद उसको सभी दस्तावेज़ों के साथ सलंग्न कर समाज कल्याण विभाग कार्यालय में जमा करना होगा।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड

स्वाधार योजना के अतंर्गत आवेदन करने हेतु आप ऑनलाइन एप्लिकेशन फॉर्म भी डाउनलोड कर सकते है। ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा फॉर्म डाउनलोड करने हेतु नीचे दिए गए स्टैप फॉलो करें।

  • ऑनलाइन आवेदन पत्र डाउनलोड करने हेतु सबसे पहले समाज कल्याण विभाग महाराष्ट्र की Official Website पर जाएं।
  • वेबसााइट पर क्लिक करने पर आपको इस प्रकार का होम पेज दिखेगा। अब होम पेज पर आपको स्वाधार योजना का चयन करना होगा।
महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन
  • चयन करने के उपरांत आपकी स्क्रीन पर स्वाधार योजना आवेदन पत्र पीडीएफ फॉर्म का लिंक आ जाएगा।
  • यहाँ से आप स्वाधार योजना का आवेदन पत्र प्रिंट या डाउनलोड कर सकते है।
  • फॉर्म डाउनलोड करने के उपरांत फॉर्म में अपनी व्यक्तिगत, संपर्क, शैक्षिक, निवास आदि जानकारियाँ भरें।
  • अब फॉर्म को सावधानी पूर्वक भरकर सभी दस्तावेज़ों के साथ संलग्न करें। अब आवेदन पत्र को अपने जिले के समाज कल्याण विभाग कार्यालय में ले जाएं।
  • इसके बाद वहाँ फॉर्म संबंधित अधिकारी को जमा करें। फॉर्म जमा करने के उपरातं अधिकारी द्वारा सभी दस्तावेज़ों का सत्यापन किया जाएगा।
  • दस्तावेज़ों के सत्यापित होने के उपरांत आपको कार्यालय द्वारा एक रसीद प्राप्त होगी, उस रसीद को अपने पास सहेंजे।
  • इस प्रकार आवेदन प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात आपको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

ऑनलाइन फीडबैक दें

  • ऑनलाइन अपनी प्रतिक्रिया देने हेतु सर्वप्रथम समाज कल्याण विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • अब होम पेज पर दिख रहे विकल्प Feedback का चयन करें। इस विकल्प का चयन करने पर आपकी स्क्रीन पर इस प्रकार का इंटरफेस खुल जाएगा।
  • यहाँ आपको अपना नाम, ईमेल एड्रेस एवं फीडबैक भरना होगा।
महाराष्ट्र स्वाधार योजना एप्लीकेशन फॉर्म
  • अंत में कैप्चा भरकर सेव बटन पर क्लिक करने पर आपकी प्रतिक्रिया दर्ज हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप अपना फीडबैक ऑनलाइन दर्ज कर सकते है।

Online Grievance Register करें

  • ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने हेतु सबसे पहले Official Website पर जाएं। वेबसाइट पर क्लिक करने पर आपके सामने पोर्टल का होम पेज खुल जाएगा।
  • अब होम पेज पर दिख रहे विकल्प Post Your Complaint पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपको Post Grievance विकल्प का चयन करना होगा।
  • विकल्प का चयन करने पर आपकी स्क्रीन पर इस प्रकार का इंटरफेस खुल जाएगा।
  • यहाँ आपको अपना मोबाइल नम्बर तथा ईमेल पता डालना होगा।
  • अब इसके बाद वैरीफाई बटन पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपके सामने एक शिकायत फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस शिकायत फॉर्म में अपना नाम, पता, संपर्क, शिकायत का विषय आदि विकल्पों को सावधानीपूर्वक भरें।
  • इसके बाद अपनी शिकायत अंकित करें। इसके अतिरिक्त यदि आपके पास शिकायत संबंधी कोई दस्तावेज़ या प्रमाण है तो उसे अपलोड करें।
  • अंत में कैप्चा भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपकी शिकायत रजिस्टर हो जाएगी।
  • इसके बाद आपको एक शिकायत पंजीकरण संख्या प्राप्त होगी, उसे सहेंजे।
  • इस प्रकार आप अपनी शिकायत रजिस्टर कर सकते है।

शिकायत की स्थिति देखें

  • ऑनलाइन शिकायत की स्थिति देखने हेतु इस डारेक्ट लिंक पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपकी स्क्रीन पर एक लॉगिन पैनल खुल जाएगा।
  • इसके बाद आपको अपना मोबाइल नम्बर तथा ईमेल पता डालना होगा।
  • अब इसके बाद वैरीफाई बटन पर क्लिक करें। क्लिक करने पर आपके सामने शिकायत की स्थिति आ जाएगी।
महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2021 के लाभ
  • योजना के तहत निर्धन परिवारों के छात्रों को अपनी पढ़ाई जारी रखने हेतु हितलाभ के रूप में छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • आर्थिक कारणों से कई विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई अधूरी छोड़नी पड़ जाती है, जिसके कारण वे योग्य होते हुए भी अपनी पढ़ाई पूरी नही कर पाते इसी स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने ऐसे योग्य छात्रों को लाभन्वित करने हेतु इस योजना का आरंभ किया है।
  • गरीब परिवारों के बच्चों का भविष्य उज्जवल करने हेतु यह एक कल्याणकारी कदम है।
  • इस योजना के अतंर्गत हॉस्टल की फीस तथा अन्य शैक्षिक सामग्री के वहन के खर्चों को भी शामिल किया गया है।
  • 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद अपनी पढ़ाई जारी रखने वाले विद्यार्थियों को ही इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • अनुसूचित जाति, नवबौद्ध समुदाय वर्ग के परिवारों को योजना के तहत लाभन्वित किया जाएगा।
  • योजना में बैंक के माध्यम से हितलाभ सीधे ऑनलाइन माध्यम से ट्रांसफर किया जाता है।
  • विद्यार्थी की कक्षा एवं पाठ्यक्रम के अनुसार ही हितलाभ की राशि का निर्धारण किया जाता है।
  • स्वाधार योजना के माध्यम से 51,000 रूपए की धनराशि विद्यार्थियों को प्रदान की जाएगी।
  • 2 वर्ष के पाठ्यक्रम हेतु इस योजना के अतंर्गत हितलाभ का प्रावधान है।
  • विद्यार्थियों के आर्थिक व सामाजिक कल्याण हेतु इस योजना की शुरूआत की गई है।
  • राज्य की शिक्षा प्रणाली के सुधार हेतु यह एक आवश्यक कदम है।

हेल्पलाइन एवं संपर्क

महाराष्ट्र स्वाधार योजना से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी या समस्या समाधान हेतु आप नीचे दी गई हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते है।

24 X 7 Citizen Call Center : 1800 120 8040 (Toll Free)

Leave a Comment