अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, आवेदन फॉर्म डाउनलोड

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana Apply Online | अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना रजिस्ट्रेशन | ESIC Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme Form | प्रधानमंत्री अटल बीमित कल्याण योजना लाभ व पात्रता

संगठित कार्यालयों में नौकरी करने वाले कई व्यक्तियों की कोरोना के कारण नौकरी छूट गई है, इस योजना को उन्हीं लोगों के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत आकस्मिक रूप से बेरोजगार हुए कर्मचारियों को वित्त सहायता दी जाएगी।

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना एक कल्याणकारी उद्देश्य से शुरू की गई है , जिसके अंतर्गत कोरोना के समय में अपनी नौकरी गँवाने वाले कर्मचारियों को लाभ दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से रोजगार से हाथ धोने वाले परिवारों को वित्त सहायता दी जाएगी। जैसा कि आप जानते ही है कि कोरोना में कितने लोगों को अपनी नौकरी गँवानी पङी। इसी स्थिति को देखते हुए अटल बीमित कल्याण योजना का शुभारम्भ किया गया जिससे किसी भी परिवार को आर्थिक सम्बंधी समस्या न हो। इस योजना का लाभ पाने के लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। जिन लोगों नें को इस योजना का लाभ पाना है वे इसमें आवेदन कर लाभ उठा सकते है।

ABVKY का संक्षिप्त विवरण

योजना का नाम अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना (ABVKY)
विभागकर्मचारी राज्य बीमा निगम (ECIS)
लाभार्थी बेरोजगार कर्मचारी
योजना का उद्देश्यबेरोजगार या कोरोना के कारण बेरोजगार कर्मचारियों को सीधे लाभंवित करना
आवेदन Online & Offline
मिलने वाला लाभकर्मचारी के वेतन का 50 प्रतिशत हितलाभ
Official Website Click here
आवेदन स्थितिउपलब्ध

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना ?

ESIC के सदस्य इस योजना का लाभ उठा सकते है क्योकिं इस योजना में ESIC द्वारा ही लाभंवित किया जाएगा। ईएसआईसी विभाग द्वारा बेरोजगार हुए कर्मचारियों को 24 माह तक नकद धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी जो कि उनकी मासिक आय अनुसार होगी। यह धनराशि बेरोजगारी की दिनांक से 30 दिनों बाद उपलब्ध कराई जाएगी , जो कि परिवर्तित की गई है पहले यह अवधि 3 माह थी। कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने कोरोना के चलते नौकरी छूट जाने वाले मानसूनी बेरोजगारों को 90 दिन की वेतन राशि का 50 प्रतिशत दिया जाएगा। किंतु इसके लिए लाभार्थी का योजना हेतु पात्र होना अनिवार्य होगा।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के लाभार्थी

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana के अंतर्गत 41 लाख बेरोजगार हुए लोगों को लाभंवित करने का लक्ष्य रखा गया है। यह संख्या बढ़कर 75 हो सकती है क्योकि अभी योग्यता मापदंडों में और भी छूट दी जा सकती है। इसके अलावा योजना के अंतर्गत दावा करने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य दस्तावेज़ माना जाएगा। इसी कारण यह अनुमान लगाया जा रहा है कि लाभार्थी संख्या में वृद्धि हो सकती है। बता दें इस योजना का लाभ केवल ईएसआईसी के सदस्यों के लिए है और ESIC के माध्यम से ही आपको धनराशि बैंक द्वारा स्थानांतरण की जाएगी।

कौन नही पा सकते लाभ

  • जिस व्यक्ति को गलत व्यवहार के कारण किसी कंपनी या कार्यस्थल से निकाला गया हो।
  • 21 हजार से अधिक आय होने पर
  • सेवानिवृत्त होने या रिटारमेंट लेने पर
  • आपाराधिक मामला दर्ज होने पर या अन्य किसी मामले में दोषी पाए जाने पर लाभ नही।

ECIS Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana क्या है ?

ECIS द्वारा भारतीय कर्मचारियों को बीमें की सुविधा उपलब्ध कराने का एक साधन है। सभी स्थाई कर्मचारी जिनकी आय 21,000 रूपए प्रतिमाह से कम है। वे इसमें पंजीकरण कराने के पात्र है। यह भारत के कर्मचारियों के लिए सामाजिक सुरक्षा तथा स्वास्थय कल्याण के लिए बीमा लाभ देने की योजना है।

मिलेगा इतना लाभ

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के अंतर्गत कर्मचारियों को उनके वेतन की आधी धनराशि प्रतिमाह दी जाएगी। किन्तु इस योजना का लाभ वे ही ले पाएँगे, जिनकी मासिक आय 21,000 से कम है। इस सुविधा का लाभ पाने हेतु ECIS का सदस्य होना अनिवार्य है। पुनः रोजगार मिलने की स्थिति में आपको क्लैम फॉर्म अप्लाई करना होगा।

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana हेतु पात्रता

  • इस योजना का लाभ केवल ESIC के पॉलिसीधारकों को मिलेगा।
  • संगठित कर्मचारियों को जो बेरोजगार हो गए है।
  • कोरोना के कारण नौकरी गँवाने वालों को
  • बैंक अकाउंट होना अनिवार्य
  • 21 हजार से कम वेतन वाले कर्मचारियों के लिए लाभ
  • किसी कारण से मृत्यु होने पर मिलेगा 15 हजार रूपए धनराशि का लाभ ( परिवर्तित हुई पहले 10 हजार थी)
  • नौकरी जाने के 30 दिन बाद मिलेगा लाभ
  • आवेदन के 15 दिन बाद मिलना शुरू हो जाएगी वित्त सहायता
  • ईएसआईसी की 2 वर्ष की सदस्यता मान्य होगी
  • कार्यस्थल पर 78 दिनों का कार्य अनिवार्य या उपस्थिति मान्य
  • किसी अन्य बीमा कंपनी या राज्य एवं केंद्र सरकार से लाभ लेने वाले इस योजना के अंतर्गत पात्र होंगे।
  • लाभार्थी पर किसी प्रकार का कोई भी केस दर्ज नही होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत कोई बेरोजगार व्यक्ति केवल 1 बार ही लाभ ले पाएगा।
  • अपनी इच्छा से नौकरी छोङने वाले या रिटायर्ड व्यक्ति को कोई लाभ नही मिलेगा।
  • दिव्यांग व्यक्तियों या असक्षम व्यक्तियों के लिए ईएसआईसी द्वारा 25 हजार रूपए की धनराशि दी जाएगी।
अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज़
  • दावा/आवेदन पत्र
  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी के साथ भौतिक दावा
  • बैंक खाता का विवरण डाक द्वारा या व्यक्तिगत रूप से नामित ईएसआईसी शाखा कार्यालय को प्रदान किया जाए
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • दिव्यांग होने की स्थिति में दिव्यांग प्रमाण पत्र ( जिला चिकित्सक द्वारा प्रमाणित)
  • 2 साल का बीमाकृत प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • रोजगार संबंधी विवरण तथा शपथ पत्र

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना: ऑनलाइन आवेदन

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana Apply Online

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के लाभ हेतु आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करना होगा। ऑफलाइऩ आवेदन आप डाकखाने द्वारा( केवल अनुमनित) कर सकते है। सभी प्रपत्रों के साथ संबंधित पते पर आप अपने आवेदन पत्र को भेज सकते है।

ऑनलाइन आवेदन पत्र डाउनलोड करने हेतु नीचे दिए गए स्टैप फॉलो करें।

  • सबसे पहले ईएसआईसी की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • यहाँ से फार्म डाउनलोड कर आपको सभी दस्तावेज़ों के साथ ईएसआईसी कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इसके आपको अ़टल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन पत्र डाउनलोड करना होगा।
  • आवेदन पत्र के साथ 20 रूपए का एफिडेफिड तथा गैर-न्यायिक स्टांप पेपर अवश्य लगाएँ।
  • ऑनलाइन आवेदन पत्र डाउनलोड कर उसके निर्देश तथा नियम पढ़कर सावधानीपूर्वक फॉर्म भरें।
  • इसके बाद कर्मचारी राज्य बीमा निगम की किसी नजदीकी ब्रांच में उसे जमा कर दें।
  • 15 दिन के बाद आपको लाभ मिलना आरम्भ हो जाएगा।

ऑनलाइन आवेदन पत्र यहाँ से डाउनलोड करें

ECIS कार्यालय खोजें

  • सबसे पहले कर्मचारी राज्य बीमा निगम की अधिकारिक वेबसाइट पर जाइए।
  • यहाँ आपको इस प्रकार का पेज दिखाई देगा।
  • अब आप यहाँ अपने राज्य का चयन करें।
  • इसके बाद सर्च के विकल्प पर क्लिक करें।
  • यहाँ आपके सामने आपके राज्य के ब्रांच ऑफिस की जानकारी आ जाएगी।

ECIS Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana नियम व शर्तें

  • ABVKY योजना का लाभ केवल उन बीमाकृत व्यक्तियों को दिया जाएगा जो आईपी को उपलब्ध है अर्थात जिन्हें बेरोजगार किया गया है।
  • एक IP को केवल तभी बेरोजगार माना जाएगा,जब उसके नियोक्ता या नियोजन ने उसे मासिक अंंशदान चालान से बाहर कर दिया हो।
  • यदि नियोजन ने उसे मासिक अनुदान चालान में IP के लिए शून्य अंशदान दिया है तो इसका अर्थ है कि आईपी अभी भी नियोक्ता के साथ नियोजित है।
  • नियोक्ता इन कर्मचारियों का भुगतान कर सकता है इसलिए ऐसे कर्मचारी योजना के तहत राहत के पात्र नही है।
  • तालाबंदी के कारण बेरोजगारो को योजना के अंतर्गत तभी लाभ मिलेगा यदि कर्मचारी आवश्यक पात्रता की शर्तों को पूरा करते है किंतु दावे की अवधि के दौरान बेरोजगार रहा होगा।

किन स्थितियों में कर सकते है आवेदन

  • दावेदार बेरोजगार होने के 1 माह ( 30 दिन) बाद राहत पाने हेतु दावा दायर कर सकता है अर्थात नियोक्ता द्वारा बाहर दिखाया है) दावेदार अपनी बेरोजगारी के ठीक एक माह बाद दावा दायर कर सकता है।
  • किसी भी बीमित व्यक्ति की अधिवर्षिता की आयु कंपनी के कानून के अनुसार कंपनी की नीति के अनुसार विशिष्ट है।
  • ईएसआई अधिनियम की धारा 56 के तहत स्पष्टीकरण के अनुसार अधिवर्षिता की आयु सात वर्ष की आयु के रूप में ली जा सकती है।
  • सिस्टम द्वारा दावे का निर्माण योजना के अंतर्गत राहत के भुगतान के लिए गारंटी नही है।
  • यदि नियोजन रिकार्ड के साथ शाखा कार्यालय प्रबंधक द्वारा दावे के सत्यापन के दौरान दावेदार अयोग्य पाया जाता है तो शाखा कार्यालय प्रबंधक द्वारा दावे को अस्वीकार किया जा सकता है। हालांकि ऐसे मामले दुर्लभ होने चाहिए।

कौन ले सकते है Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana लाभ

  • जिन कर्मचारियों ने अपना इस्तीफा सौपं दिया है और वर्तमान समय में वे अन्य स्थान पर कार्यरत नही हैं उन्हें भी पात्र होने पर बेरोजगार माना जाएगा बशर्ते कि नियोक्ता ने इस्तीफा देने/ नौकरी छोङने के समय किसी भी छंटनी हितलाभ/ आर्थिक प्रतिपूर्ति का भुगतान नही किया हो।
  • लॉकडाउन या लॉक-आउट के मामले मेंं ABVKY के अंतर्गत राहत स्वीकार्य नही है क्योंकि लॉक-आउट तथा लॉकडाउन की अवधि के दौरान नियोक्ता कर्मचारियों को लगातार नियुक्त करता रहता है।
  • कर्मचारी ( बेरोजगार पूर्व आईपी) से कोई घोषणा प्राप्त नही किया जाएगा। कर्मचारी से पूछताछ से भी कोई लेना-देना नही होगा।
  • पूर्व आईपी की सभी आवश्यक जानकारी सत्यापन के समय नियोक्ता से प्राप्त की जा सकती है।
  • सत्यापन के समय या दौरान यदि यह पाया जाता है कि कर्मचारी के संबंध में ईपीएफ अंशदान का भुगतान किया गया है तो कर्मचारी को बेरोजगार नहीं माना जाएगा।

भुगतान के प्रकार

ESIC Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme के अंतर्गत केवल बैंक अकाउंट में रकम ट्रांसफर की जाएगी। जो की आईपी की शाखा बैंक में इलेक्ट्रानिक माध्यम से की जाएगी। मृत्यु होने की स्थिति में यह धनराशि लाभार्थी के नामती को बैंक माध्यम या चेक द्वारा प्रदान की जाएगी।किंतु यह लाभ पाने हेतु नामती को क्लेम फॉर्म भरना होगा।

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana (ABVKY) Update

कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा 13 दिनों तक राहत भुगतान के रूप में दिया जाता है। इस योजना को अब एक और वर्ष 1 जुलाई 2020 से 30 जून 2021 तक के लिए बढ़ा दिया गया है। योजना के तहत पात्रता शर्तों में छूट के साथ बेरोजगारी राहत की दर को पूर्व की 25 प्रतिशत दर से बढ़ा कर मजदूरी के 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का भी निर्णय लिया गया है बशर्ते बीमित व्यक्ति को 2 साल की न्यूनतम अवधि के लिए बीमा योग्य रोजगार में होना चाहिए और उसकी बेरोजगारी के तुरंत पहले के योगदान की अवधि 78 दिनों से कम नही के बराबर योगदान देना चाहिए। इसके अतिरिक्त बेरोजगारी से पहले के दो वर्षों में शेष तीन योगदान अवधि में से एक में न्यूनतम 78 दिन के बराबर योगदान देना चाहिए।

मिलेगा इतना लाभ

Atal Bimit Vyakti Kalyan yojana के अंतर्गत ईएसआईसी के मेंबर को ही लाभ प्राप्त होगा यह हम आपको पहले ही बता चुके है। इस योजना के अंतर्गत बेरोजगार हुए लोगों को उनके वेतन के स्थान पर कुछ धनराशि का भुगतान ईएसआईसी द्वारा किया जाता है।

  • इस योजना के अंतर्गत लाभ पाने हेतु आप बेरोजगार होने के 1 माह या 30 तीन के बाद आवेदन कर सकते है। बता दें यह अवधि पहले 90 दिन ( 3 माह) थी।
  • आवेदन के 15 दिन बाद ही आपको लाभ मिलने लगेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत कर्मचारी के वेतन का 50 प्रतिशत अर्थात वेतन की आधी धनराशि का भुगतान किया जाएगा। बता दें यह पहले वेतन का केवल 25 प्रतिशत भुगतान ही किया जाता था।

कैसें प्राप्त होगा भुगतान

पूर्व में यह भुगतान कंपनी या कार्यस्थल के नियोक्ता या मालिक के अकांउट में किया जाता था और नियोक्ता या कंपनी के मालिक द्वारा वह धनराशि Employees के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती थी किंतु अब इस प्रणाली में परिवर्तन किया गया है। अब डारेक्ट कर्मचारी के बैंक खाते में हितलाभ ट्रांसफर किया जाता है।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के उद्देश्य

  • अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना का मुख्य उद्देश्य बेरोजगार हुए कर्मचारियों को लाभंवित करना है।
  • इस योजना के अंतर्गत करीब 6,700 करोङ रूपए का बजट रखा गया है।
  • अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के अंतर्गत 41 लाख बेरोजगार हुए लोगों को लाभंवित करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • ABVKY के अतंर्गत लाभार्थी संख्या 75 लाख होने का अनुमान लगाया जा रहा है।
  • जैसा कि सभी जानते है कि कोरोना काल में बहुत से परिवारों के व्यक्ति बेरोजगार हो गए है जिसके कारण कई समस्याएँ उनके परिवार के सामने उत्पन्न हो गई है।
  • बेरोजगार हुए परिवारों को आर्थिक सहायता देने हेतु इस योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • कोरोना काल में यू तो कई योजनाएँ चलाई गई है किंतु कर्मचारी वर्ग इससे अछूता था इसी कारण इस योजना का आरम्भ किया गया।
  • इस योजना का लाभ देश के हर राज्य को मिलेगा।
  • एकेबीवीवाई योजना के अंतर्गत कर्मचारियों को डारेक्ट हितलाभ मिलेगा।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना हेल्पलाइन तथा संपर्क

ESIC Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme के अंतर्गत किसी प्रकार की समस्या समाधान या जानकारी के लिए कर्मचारी राज्य बीमा निगम पोर्टल द्वारा जारी हेल्पलाइन पर संपर्क करें।

हेल्पलाइन 1800-11-2526

Address :            
Employees’ State Insurance Corporation
Panchdeep Bhawan
Comrade Indrajeet Gupta (CIG) Marg,
New Delhi – 110 002.  
Phone Number : 011-23234092, 23234093, 23234098, 23235496, 23236051, 23235187, 23236998         
Fax Number : 011-23235481, 2323453

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना या पोर्टल संबंधी कोई शिकायत या सुझाव हेतु इस ई-मेल पते pghqrs@esic.nic.in  पर ईमेल कर सकते है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता मिशन अभियान (PMGDISHA)

Leave a Comment